Best 360+ Chand Shayari 🌜 चाँद पर शायरी प्रसिद्द शायरों के साथ”

Chand Shayari पोस्ट में आपकों मिलेगा खुबसूरत चाँद शायरी, Shayari On Moon, Chand Shayari In Hindi-Urdu English का बेहतरीन संग्रह किया हैं. जिसे आप अपनों के साथ साझा कर सकते हैं।

दोस्तों आज की पोस्ट आधारित हैं चाँद पर और यह पोस्ट ख़ास आपके लिए हैं क्युकि हमने संग्रह किया हैं प्यार मोहब्बत इश्क जुदाई और दर्द से जुडी Chand Par Shayari जिसे पढ़ कर आपका दिल खुश हो जाएगा ऐसी मेरी आशा हैं।

क्युकि हमने ख़ास आपके लिए वही चाँद शायरी को प्रस्तुत कर रहा हूँ जो सबसे बेहतरीन हैं और सबसे अधिक लोगो ने पसंद किया हैं।

तो बिना किसी देर के दोस्तों शुरुआत करते सबसे बेहतरीन Chand Ki Shayari जिसे आप Copy कर सकते हैं।

और साथ ही Whatsapp, Facebook & Instagram पर Post भी कर सकते हैं. और चाँद शायरी का भरपूर लुफ्त उठा सकते हैं।

मेरे सामने वाली खिड़की में, एक चांद का टुकड़ा रहता है, अफ़सोस ये है के वो हमसे, कुछ उखड़ा उखड़ा रहता है, जिस रोज़ से देखा है उसको, हम शमा जलाना भूल गए, दिल थाम के ऐसे बैठे हैं, कहीं आना जाना भूल गए, अब आठ पहर इन आँखों में वो चंचल मुखड़ा रहता है।

# Chand Shayari

ना चाँद चाहिए ना फलक चाहिए, मुझे बस तेरी की एक झलक चाहिए।

ये पूरा चांद बिल्कुल तुम सा खूबसूरत होता है, लेकिन ऐसा सिर्फ कभी-कभी ही होता है।

जानता हूं बड़ा मगरूर है तू ए-चांद, क्या करूं मेरी तन्हाई का साथी भी बस तू है।

रात भर तेरी तारीफ़ करता रहा चाँद से, चाँद इतना जला, कि सूरज हो गया।

बेसबब मुस्कुरा रहा है चाँद, कोई साजिश छुपा रहा है चाँद।

मेरे महबूब का चेहरा भी उस चांद से मिलता है, बस उसकी तरह इसके दिल में दाग नहीं।

हमारे हाथों में इक शक्ल चाँद जैसी थी, तुम्हे ये कैसे बतायें वो रात कैसी थी।

ख्वाबो की बातें वो जाने, जिनका नींद से रिश्ता हो, मैं तो रात गुजारती हुँ, चाँद को देखने में।

मोहब्बत थी तो चाँद अच्छा था, उतर गई तो दाग भी दिखने लगे।

तुम चाॅंद हो तो मैं चंद्रयान बन जाता हूॅं, तेरे दिल पर सफलतापूर्वक सॉफ्ट-लैंडिंग करना चाहता हूॅं।

Read More ⇨ 320+ Raat Shayari “रात शायरी प्रसिद्द शायरों के साथ”

हर सुबह डूब जाता है ये चांद, काश कोई इसे तैरना सीखा देता।

Chand Shayari In Hindi

ऐ सनम जिसने तुझे चाँद सी सूरत दी है, उस ही मालिक ने मुझे भी तो मोहब्बत दी है।

आज ये पूरा चांद आसमां में चमक रहा है, लगता है इसे भी इजहार-ए-मोहब्बत हुआ है।

तस्वीर बना कर तेरी आस्मां पे टांग आया हूँ, और लोग पूछते हैं आज चाँद इतना बेदाग़ कैसे है?

तुम कहो तो चाँद तोड़कर रख दू हथेली पर, दिल करें तो आओ कभी हवेली पर।

चाँद तारो में नज़र आये चेहरा आपका, जब से मेरे दिल पे हुआ है पहरा आपका।

रातों में टूटी छतों से टपकता है चाँद, बारिशों सी हरकतें भी करता है चाँद।

खीर में घुले अमृत, चांदनी रात की गरिमा है, मिलन दो ऋतुओं का शीतल शरद पूर्णिमा है।

पूर्णिमा के चाँद पर शायरी

रात्रि का वक़्त और आकाश में लालिमा है, क्या तुम्हें पता है आज शरद पूर्णिमा है।

पूर्णिमा का चांद समझकर मोहब्बत की थी उनसे, वो अमावस की रात बन मेरे जीवन में अंधकार कर गए।

Famous Chand Shayari

अब चांद में भी नजर आने लगा है चेहरा उनका, जब से इजहार-ए -मोहब्बत हुआ है उनका।

Read More ⇨ 160+ Udas Shayari “उदासी उदास शायरी

Read More ⇨ 300+ Samandar Shayari “समंदर शायरी फोटो के साथ”

तेरा सुंदर मुखड़ा है चाँद, मेरे दिल का टुकड़ा है चाँद।

बहुत रोता होगा ये चांद भी और कोसता भी होगा हमें, हमारी चंद ख्वाहिशों ने उसके सारे तारे तोड़ लिए।

वो पलकें झुकाकर अक्सर यूं शर्माते हैं, जब हम उन्हें प्यार से चांद कहकर बुलाते हैं।

मोहब्बत में झुकना कोई अजीब बात नहीं, चमकता सूरज भी तो ढल जाता है चाँद के लिए।

दिन में चैन नहीं ना होश है रात में, खो गया है चाँद भी देखो बादल के आगोश में।

मोहब्बत भी चाँद की तरह दिखता हैं, जब पूरा होता हैं तो फिर घटने लगता हैं।

तुम सुबह का चाँद बन जाओ, मैं सांझ का सूरज हो जाऊँ, मिलें हम-तुम यूँ कभी, तुम मैं हो जाओ, मैं तुम हो जाऊँ।

कुछ तुम कोरे कोरे से, कुछ हम सादे सादे से, एक आसमां पर जैसे, दो चाँद आधे आधे से।

Aadha Chand Shayari

आ गए हो मिलने हमसे, तो जी भरकर बातें कर लो, आता कहां है रोज-रोज तुम जैसा पूरा चांद आंगन में।

आप कुछ यूँ मेरे आइना-ए-दिल में आए, जिस तरह चाँद उतर आया हो पैमाने में।

एक ये दिन हैं जब चाँद को देखे, मुद्दत बीती जाती है, एक वो दिन थे जब चाँद खुद, हमारी छत पे आया करता था।

इक चांद ही तो था जिसे देख हम तसल्ली करते थे, कमबख्त बादलों ने उसे भी छिपा लिया।

रात में एक टूटता तारा देखा बिलकुल मेरे जैसा था, चाँद को कोई फर्क नहीं पड़ा बिलकुल तेरे जैसा था।

बहुत गुरूर था चांद को अपनी खूबसूरती पर, आज मेरे सनम की चमक को देख, वो बादलों में छिप गया।

उस चाँद को बहुत गुरूर हैं कि उसके पास नूर हैं, मगर वो क्या जाने कि मेरा यार भी कोहिनूर हैं।

कल रात इक तारा देखा टूटता हुआ बिल्कुल मेरे जैसा, चांद को जरा भी फर्क न पड़ा, क्योंकि वो भी है तेरे जैसा।

कभी तुम कहते थे मुझको अपना चाँद, क्या वो लम्हें, वो दिन, वो रात है तुमको याद।

वो चांद सी शीतल, मैं सूरज सा गर्म, मिलन की आस लगाएं भी तो कैसे?

दमक तो सकते है हम भी गैरों की चमक चुराके, मगर उधार की रोशनी का चाँद बनना हमें मंजूर नहीं।

Best Chand Shayari In Hindi

बंद रखते है जुबान लब नहीं खोला करते, चाँद के सामने तारे नहीं बोला करते।

वो चाँद कह के गया था कि आज निकलेगा, तो इंतिज़ार में बैठा हुआ हूँ आज शाम से मैं ।

एक रात हसीं ऐसी भी हो जब फूल बिछे राहों में हो, एक चाँद फलक पे निकला हो एक चाँद मेरी बाहों में हो।

पूरे की ख्वाहिश में ये इंसान बहुत कुछ खोता हैं, भूल जाता हैं कि आधा चाँद भी ख़ूबसूरत होता हैं।

# Chand Par Shayari

इसी कशमकश में ये रात गुजर जाए, मैं चांद देखने निकलूं और वो बादलों में छिप जाए।

बेचैन इस क़दर था कि सोया न रात भर, पलकों से लिख रहा था तेरा नाम चाँद पर।

दिल थाम लेंगे फूल और चांद भरेगा आहें, जब बात होगी हुस्न की सब पहले तेरा ही नाम लेंगे।

चाँद तो अपनी चाँदनी को ही निहारता है, उसे कहाँ खबर कोई चकोर प्यासा रह जाता है।

हमसफर हो कोई अपना भी जिंदगी में, कब तक छत पर यूं चांद ताकते रहेंगे।

जन्नत क्या होती है मुझे नहीं मालूम, लेकिन पूरे चांद की रात में तुझे देखना, मुझे जन्नत के करीब ले जाता है।

रोज सुबह चिढ़ाता है सूरज भी उगने पर, कहता है अब कहां है, वो चांद जिस पर बड़ा घमंड था तुम्हें।

सफ़र-ए-जिंदगी कुछ इस कदर सुहाना हो जाएँ, बन जाऊं मैं चाँद और पूरा शहर दीवाना हो जाएँ।

Chand Shayari In Hindi

वो चाँद है तो अक्स भी पानी में आएगा, किरदार खुद उभर के कहानी में आएगा।

चाँद जैसे मुखड़े पे बिन्दिया सितारा, नहीं भूलेगा मेरी जान ये सितारा वो सितारा, माना तेरी नज़रों में मैं हूँ एक आवारा हो आवारा।

कितना भी कर ले चाँद से इश्क़, रात के मुक़द्दर मे, अँधियारे ही लिखे हैं।

Two Line Chand Shayari in Hindi

तू चाँद और मैं सितारा होता, आसमान में एक आशियाना हमारा होता, लोग तुम्हे दूर से देखते,नज़दीक़ से देखने का, हक़ बस हमारा होता।

चाँद से प्यारी चादनी, चादनी से प्यारी रात, रात से प्यारी ज़िन्दगी, ज़िन्दगी से प्यारे आप ।

Read More ⇨ 750+ Pyar Bhari Shayari With Images

Read More ⇨ 300+ love shayari in hindi for girlfriend

निगाहें हम दोनों की चाँद की खूबसूरती पर थी, उनकी आसमान वाले पर और हमारी उन पर।

ए-खुदा उसे सुबह का चांद और मुझे शाम का सूरज बना दे, मिले ऐसे कि मैं उसमें समा जाऊं और वो मुझमें समा जाए।

रौशनी चाँद की होती है, मचलना दिल को पड़ता है, जो तेरी याद आती है सम्भलना दिल को पड़ता है।

लाख कोशिश कर ले बादल, चांद को मुझसे छिपाने की, लिखवा के लाया हूं मैं किस्मत में उसे खुदा से।

चाँद मेरा दिल चांदनी हो तुम चाँद से है दूर चांदनी कहाँ, लौट के आना है यहीं तुमको, जा रहे हो तुम जाओ मेरी जान

चांदनी रात में तारों का साथ है, तू नहीं है तो क्या तेरी हर याद मेरे साथ है।

एक खूबसूरत दौर था जो बीत गया, गर्मी की रात में खुले आसमान के नीचे लेटकर, चाँद को देखते हुए कुछ खूबसूरत ख्वाब बुनते थे।

ऐ चाँद तू भूल जायेगा अपने आप को, जब सुनेगा दास्तान मेरे प्यार की, क्यूँ करता है तू गुरूर अपने आप पे इतना तू तो सिर्फ़ परछाई है मेरे यार की।

मिलने को उनसे बेकरार इतना थे कि सो न पाए रातभर, आंखों में ख्वाब उनके थे और नाम उनका लिखते रहे चांद पर।

वो खुशियां बाजारों में कहां, जो खुले आसमान में है, वो खूबसूरती चांद में कहां, जो आप में है।

चार दिन की चाँदनी शाम के साथ ढल गई, क्या लेकर आया था इंसान, शरीर के साथ जल गई।

कौन कहता है कि मोहब्बत में चांद तारे तोड़ लाना जरूरी है, कह दें वो प्यार हमसे करते हैं, हमारे लिए इतना ही काफी है।

मुझे चाँद पे ले चलो, तारे दिखा दो मुझे है रात भर का सफ़र ये कल को ना मिला मुझे।

वो थका हुआ मेरी बाहों में ज़रा सो गया था तो क्या हुआ, अभी मैं ने देखा है चाँद भी किसी शाख़-ए-गुल पे झुका हुआ।

न चाहते हुए भी लब पर ये फरियाद आ ही जाती है, मत दिखा कर मुझे ए-चांद, किसी की याद आ जाती है।

क्यों रातों को तू जागता रहता है ए-चांद, बता किस से तुझे मोहब्बत-ए इजहार हुआ है।

कुछ वो कोरे से हैं, कुछ मैं सादा सा, जैसे एक ही आसमां में दो चांद हों आधा-आधा सा।

Four Line Chand Shayari

रात गुमसुम हैं मगर चाँद ख़ामोश नहीं, कैसे कह दूँ फिर आज मुझे होश नहीं, ऐसे डूबा तेरी आँखों की गहराई में आज हाथ में जाम हैं, मगर पीने का होश नहीं।

ये दिल न जाने क्या कर बैठा, मुझसे बिना पूछे ही फैसला कर बैठा, इस ज़मीन पर टूटा सितारा भी नहीं गिरता, और ये पागल चाँद से मोहब्बत कर बैठा।

रात के अँधेरे में चाँद की खूबसूरती तो देखो, ऐसे लगता है मानो कोई परी सूनसान राहो में खड़ी है, दिल जलता है उसे तन्हाई में भी चमकता देख कर यहाँ बिन महबूब के एक रात ना कटी है।

चाँद का क्या कसूर, अगर रात बेवफ़ा निकली, कुछ पल ठहरी और फिर चल निकली, उन से क्या कहे वो तो सच्चे थे शायद हमारी तकदीर ही हमसे खफा निकली।

चांद सा चेहरा देखने की इजाजत दे दो हमें, तुम्हें अपना बनाने की इजाजत दे दो हमें, हम इश्क करना चाहते हैं तुमसे, इश्क करने की इजाजत दे दो हमें।

हम उसे रोज खुद से ज्यादा चाहते रहे और वो हमसे दूर जाता गया, ठीक वैसे ही जैसे हम चांद को निहारते रहे और वो बादलों में गुम होता गया।

# Dard Bhari Chand Shayari In Hindi

उसकी तो मोहब्बत भी चांद की तरह थी, पहले पूरी थी, फिर दिन-ब-दिन घटने लगी।

सारी रात गुजारी हमने इसी इन्तजार में की, अब तो चाँद निकलेगा आधी रात में।

मेरा और उस चांद का मुकद्दर भी एक जैसा है, मैं यहां हजारों में तन्हा हूं और वो वहां तारों में तन्हा है।

चाँद के साथ कई दर्द पुराने निकले, कितने ग़म थे जो तेरे ग़म के बहाने निकले।

Dard Bhari Chand Par Shayari

ना जाने किस रैन बसेरो की तलाश है इस चाँद को, रात भर बिना कम्बल भटकता रहता है इन सर्द रातो में।

ए-खुदा तूने भी बड़ा सितम किया है आशिकों पर, बनाया गर चांद तो महबूब मेरे नसीब में क्यों नहीं।

मेरी और चाँद की किस्मत मिलती जुलती है, वो सितारों में अकेला, मैं हजारों में अकेला।

कह दो इन अंधेरों से कि अब उनसे डर नहीं लगता मुझे, चांदनी हाथ थामे हर कदम पर मेरे साथ है।

Read More ⇨ 300+ Sad Quotes In Hindi With Images

रुसवाई का डर है या अंधेरों से मुहब्बत खुदा जाने, अब मैं चाँद को अपने आँगन में उतरने नहीं देता।

उस बेवफा ने साथ क्या छोड़ा, चांदनी भी बनकर धूप सताने लगी।

निकल पड़ता हूं मैं सर्द अंधेरी रातों में, अपनी तन्हाई छुपाने और चांद की तन्हाई मिटाने।

तेरी बेवफाई के किस्से सुन ये चांद भी हर रात घटता गया, जब हो गई इंतहा, तो वो भी अमावस को मुझे तन्हा कर गया।

मेरा और उस चाँद का मुकद्दर एक जैसा हैं, वो तारों में तन्हा हैं और मैं हजारों में तन्हा।

# Chand Shayari Love

चांद पर थोड़ा गुरूर हम भी कर लें, पर मेरी नजरें पहले महबूब से तो हटें।

आज तो अपने प्यार का जादू चला ही दो हम पर, देखो फलक में आज चांद भी पूरा है।

कौन कहता है क़ि चाँद तारे तोड़ लाना ज़रूरी है, दिल को छू जाए प्यार से दो लफ्ज़, वही काफ़ी है।

इन आँखों को जब तेरे चाँद जैसे चेहरे का, दीदार हो जाता है, सच कहू ,वो दिन कोई सा भी हो लेकिन त्यौहार हो जाता है।

तेरी खूबसूरती के सामने सबकुछ फीका लगे, आसमां में पूरा है चांद फिर भी तेरी दमक के सामने आधा लगे।

होता जाता है जब तेरे चांद से चहरे का दीदार, खुदा कसम दिल में उमड़ पड़ता है प्यार।

Pyar Bhari Chand Shayari In Hindi

चाँद को देखूँ तो तेरा चेहरा नजर आता है, मैं इश्क़ में हूँ इतना तो मुझे समझ में आता है।

न वो चांद चाहिए न वो सितारे चाहिए, मुझे बस मेरी मोहब्बत की सलामती चाहिए।

Chand Shayari For GF

चाँद की खूबसूरती पर एक पहरा दिख रहा है, आज मुझे चाँद में महबूब का चेहरा दिख रहा है।

न चांद की चाह न फलक का इंतजार हैं, कैसे कहूं मुझे बस तुझसे ही प्यार है।

लोग पूछते हैं कि हम चांद को यूं बार-बार देखते क्यों हैं, अब उन्हें कौन समझाए की चांद में हमें महबूब नजर आता है।

Romantic Chand Shayari for Girlfriend in Hindi

चांद से तो हर किसी को प्यार है, मैं खुशनसीब हूं कि चांद को मुझसे प्यार है।

खोया-खोया चांद, खुला आसमां, आँखों में सारी रात जाएगी, तुमको भी कैसे नींद आएगी।

चाँद तारो की कसम खाता हूँ, मैं बहारों की कसम खाता हूँ, कोई आप जैसा नज़र नहीं आया, मैं नजारों की कसम खाता हूँ।

तुम आये जो आज मुझे याद गली में आज चाँद निकला, जाने कितने दिनों के बाद गली में आज चाँद निकला।

तौबा ये मतवाली चाल, झुक जाए फूलों की डाल, चाँद और सूरज आकर माँगें, तुझसे रँग-ए-जमाल हसीना! तेरी मिसाल कहाँ?

# Chand Shayari In Urdu

उस के चेहरे की चमक के सामने सादा लगा, आसमाँ पे चाँद पूरा था मगर आधा लगा। “इफ़्तिख़ार नसीम”

कभी तो आसमाँ से चाँद उतरे जाम हो जाए, तुम्हारे नाम की इक ख़ूब-सूरत शाम हो जाए। “बशीर बद्र”

तुम आ गये हो तो फिर चाँदनी सी बातें हों. ज़मीं पे चाँद कहाँ रोज़ रोज़ उतरता है। “वसीम बरेलवी”

आज आसमां में चांद पूरा है, तारे भी अपने पूरे रूबाब में हैं, फिर भी हमारे महबूब से ये सब फीके हैं।

हाल-ए-दिल की दास्तां सुनाता किसे, सो चुके थे चांद तारे भी फिर चांदनी लाता कहां से।

खूबसूरत गज़ल जैसा है तेरा चाँद सा चेहरा, निगाहे शेर पढ़ती हैं तो लब इरशाद करते है।

इक अदा आपकी दिल चुराने की, इक अदा आपकी दिल में बस जाने की, चेहरा आपका चाँद सा और एक हसरत हमारी उस चाँद को पानी की।
चाँदनी रात बड़ी देर के बाद आई है, लब पे इक बात बड़ी देर के बाद आई है, झूम कर आज ये शब-रंग लटें बिखरा दे, देख बरसात बड़ी देर के बाद आई है। “सैफ़ुद्दीन सैफ़”
क्यों हर कोई उस चांद से ही दिल लगाना चाहता है, शहर का हर एक सितारा उसका होना चाहता है, खुश हैं हम दूर रहकर उससे क्योंकि, चांद दूर से ज्यादा खूबसूरत नजर आता है।
ढल गई शाम और चारों ओर अंधेरा छाने लगा, तभी निकल आया चांद और आसमां पर सितारे छाने लगे, हम भी धीरे-धीरे उनकी यादों में खोने लगे, चांदनी देख ऐसा महसूस हुआ जैसे हमारा महबूब पास आने लगा।

shayari on chaand

आज मुद्दतों बाद मुझे मेरे चांद का दीदार तो हुआ, बेशक एक दूसरे से हम गले लगकर न मिले, पर दो घड़ी ही सही उसका दीदार तो हुआ।

जिस प्रकार चाँद हमेशा, घटता और बढ़ता रहता है, ठीक उसी प्रकार इंसान का प्रेम भी घटता और बढ़ता महसूस होता है।

काश कि मैं आसमान का एक तारा होता, तुम मुझे और मैं तुम्हें प्यारा होता, देखती दुनिया जिस चांद को दूर से, उसे करीब से देखने का हक सिर्फ मेरा होता।

जीवन में हार न हो तो सफलता की कद्र कौन करता हैं, जैसे रात अंधेरी न होती, तो चांदनी की बात कौन करता हैं।

कहां से लाता है इतनी सहनशीलता ये चांद, अपने हिस्से सारे दाग रख दूसरों को रोशन किए जा रहा है।

चांद की रोशनी आज फिर खिड़की से दस्तक दे रही है, लगता है फिर वो चांद को ताकते हुए हमें याद कर रहे हैं।

चाँद की चाँदनी से एक पालकी बनाई हैं, यह पालकी मैंने तारों से सजाई हैं, ऐ हवा जरा धीरे-धीरे चलना मेरे दोस्त को बड़ी प्यारी नींद आई हैं।

जिक्र तेरी खूबसूरती का जो किया तो वो चांद भी शरमाया, हम किस्से पर किस्सा सुनाते गए वो बादलों में गुम होता गया।

जिंदगी में जब अकेलापन ज्यादा बढ़ जाएँ, तो किसी रोज शाम के वक़्त छत पर जाकर चाँद के साथ थोड़ा वक़्त जरूर बिताना।

# Eid Chand Shayari

ईद का चाँद तुम ने देख लिया, चाँद की ईद हो गई होगी। “इदरीस आज़ाद”

हम ताकते रहे राह उनकी उम्र भर खड़े यूं चौराहे पर, जिन्हें दिख गया वो चांद, उनकी ईद हो गई।

वो आसमां में ताकते रहे ईद का चांद, हम उन्हें नजर भर देखकर ईद मना आए।

Read More ⇨ 690+ Struggle Motivational Quotes In Hindi

Read More ⇨ 750+ Suvichar In Hindi With Images

मोहब्बत में दिल मेरा खो गया है, महबूब मेरा ईद का चाँद हो गया है।

इंसान महबूब बदलने की सोचता है, इक चाँद जो आकाश का हमेशा रहता हैं।

Chand Shayari In Hindi Urdu

देखा हिलाल-ए-ईद तो आया तेरा ख़याल, वो आसमाँ का चाँद है तू मेरा चाँद है।

तुम मेरे जीवन के चांद बन जाओ, और मैं हमेशा के लिए तुम्हारी चांदनी बन जाऊं।

ईद के चांद को देखकर तुम्हें याद करते हैं, वो भी एक दौर था जब तुम्हें ऐसे ही घंटों निहारा करते थे।

न जाने क्या मजहब है इस चांद का, ईद भी इसकी, करवा चौथ भी इसका।

दिन भर के थकान और तनाव को दूर करने के लिए चाँद निकलता है, किसी प्रेमिका की तरह चाँद का एक झलक मन को खुश कर देता है।

# Chand Shayari In English

Khubsurat Gazal Jaisa Hain Tera Chand Sa Chaihara, Nigahe Sher Padhati Hain To Lab Irshad Karate Hain.

Naa Jaane Kis Rain Basere Ki Talash Hai Is Chand Ko, Raat Bhar Bina Kambal Bhatakata Rahata Hai In Sard Raato Me.

Ruswayi Ka Dar Hai Ya Andhero Se Mohabbat, Khuda Jaane, Ab Main Chand Ko Apane Angan Men Utarate Nahi Dekha.

Bebas Muskura Raha Hain Chand, Koi Sazish Chhupa Raha Hain Chand.

Sari Raat Guzari Hamane Isi Intzaar Me Ki, Ab To Chand Nikalega Aadhi Raat Me.

Chand Shayari In Hindi English

Chand Taaron Me Nazar Aaye Chaihara Aap Ka, Jab Se Mere Dil Me Huwa Hain Pahara Aap Ka.

Bechain Is Kadar Tha Ki Soya Naa Raat Bhar, Palako Se Likh Raha Tha Tera Naam, Chand Par.

Usake Chaihare Ki Chamak Ke Samane Saada Laga, Aasmaan Pe Chand Pura Tha Magar Aadha Laga.

Chand Apani Chadani Ko Hi Niharata Hain, Use Kaha Pata Koi Chakor Pyasa Rah Jata Hain

Mohabbat Me Jhukana Koi Ajeeb Baat Nahi, Chamakata Suraj Bhi To Dhal Jata Hain, Chand Ke Liye.

Mohabbat Thi To Chand Achchha Tha, Utar Gayi To Daag Dikhane Lage.

Naa Chand Chahiye Naa Falak Chahiye, Mujhe To Bas Teri Ek Jhalak Chahiye.

Chand Ke Sath Kai Dard Purane Nikale, Kitane Gam The Jo Tere Gam Ke Bahane Nikale.

Kuchh Tum Kor-Kore Se, Kuchh Ham Sade-Sade Se, Ek Aansmaan Par Jaise Do Chand Aadhe-Adhe Se.

Din Me Chain Nahi Naa Hosh Raat Me, Kho Gaya Hain Chand Bhi Dekho, Badal Ke Aagosh Me.

Hamare Hatho Me Ek Shakl Chand Jaisi Thi, TumheYe Kaise Bataye Wo Raat Kaisi Thi.

Four Line Chand Shayari In English

Ye Dil Naa Jaane Kya Kar Baitha, Mujhase Bina Puchhe Hi Faisala Kar Baitha, Is Zamin Par Tuta Hua Sitara Bhi Nhai Geerata, Aur Ye Chand Se Mohabbat Kar Baitha.

In Ankho Ko Jab Tere Chand Jaise Chaihare Ka, Deedar Ho Jata Hain, Sach Kahu, Wo Din Koi Sa Bhi Ho Tyauhaar Ho Jata Hain.

Damak To Sakate Hain Ham Bhi, Gairo Ki Chamak Chura Ke, Magar Udhar Ki Roshani Ka Chand Banana Mujhe Manjur Nhai.

Ek ye Din Hain Jab Chand Ko Dekhe Muddate Biti Jati Hian, Ek Wo Din The Jab Chand Khud Hamari Chhat Pe Aaya Karata Tha.

Wo Thaka Hua Meri Baaho Me Jara Sa So Gaya Tha To Kya Hua, Abhi Maine Dekha Hain Chand Bhi Kisi Shakh-E-Gul Pe Jhuka Hua.

Raato Me Tuti Chhaton Se Tapakata Hain Chand, Baarisho Si Harakate Karata Hai Chand.

Tum Aa Gaye Ho To Fir Chandani Si Baate Ho, Zamin Pe Chand Roz Roz Utarata Nahi.

Tu Chand Sitara Hota Aasaman Me Ek Aashiyana Hota, Log Tumhe Dur Se Dekhate, Nazadik Se Dekhane Ka Haq Bas Hmaara Hota.

Wo Chand Kah Ke Gaya Tha, Ki Aaj Nikalega, To Intzaar Me Baitha Hu Aaj Sham Se.

Raat Bhar Teri Tarif Karata Raha Chand Se, Chand Itana Jala Ki, Suraj Ho gaya.

Raat Me Tutata Tara Dekha Bilakul Mere Jaisa Tha, Chand Ko Koi Fark Nahi pada bilakul Tere Jaisa Tha.

Kaun Kahata Hain Ki Chand Taare Tod Lana Jaruri Hain, Dil Ko Chhu Jaaye Pyar Se Do Lafz Wahi Kafi Hain.

Tum Subah Ka Chand Ban Jaao, Main Shanjh Ka Suraj Ho Jau, Mile Ham-Tum Yu Kabhi, Tum Main Ho Jaun, Mai Tum Ho Jaao.

Ye Sanam Jisane Tujhe Chand Si Surat Di Hai, Us Hi Malik Ne Mujhe Bhi To Mohabbat Di Hain.

Khwabo Ki Baat Wo Jane Jinaka Nind Se Rishta Ho, Mai To Raat Gujarati Hu Chand Dekhane Me.

Chand Se Pyari Chandini, Chandini Se Pyari Raat, Raat Se Pyari Zindagee, Zindagee Se Pyare Aap.

Tasveer Bana Ke Teri Aasmaan Pe Tang Aaya Hu, Aur Log Puchhate Hain Aaj Chand Itana Bedaag Kaise Hai.

Chand Taaron Ki Kasam Khata Hu, Main Baharon Ki Kasam Khata Hu, Koi Aap Jaisa Nazar Nahi Aaya, Mai Nazaaron Ki Kasam Khata Hu.

Kitana Bhi Kar Le, Chand Se Ishk, Raat Ke Mukaddar Me, Andhiyaren Hi Likhe Hain.

Aap Kuchh Yu Mere Aayina-E-Dil Me Aaye, Jis Tarah Chand Utar Aaya Ho Paimaane Me.

🍂 Final Word

दोस्तों आशा करता हूँ कि आप सभी को हमारी यह Chand Shayari In Hindi With Images  की पोस्ट पसंद आई होगी और आपने चाँद शायरी फोटो, इमेज को अपने दोस्तों के साथ अवश्य साझा भी किया होगा।।

।।Chand Shayari In Hindi English।।

Friends, you can also join our Instagram profile. And there also you will get the latest post which you can share on your profile.

Thank you very much, you have given a lot of love to this small blog of ours. If you have any suggestion for this blog or any complaint or want to join our blog then feel free to CONTACT US.

Leave a comment