Best 260+ Khamoshi Shayari 😷 ख़ामोशी पर शायरी प्रसिद्द शायरों के साथ”

Khamoshi Shayari में आपको मिलेगा ख़ामोशी पर शायरी, कोट्स, Dard Khamoshi Shayari, Khamoshi Quotes In Hindi English का दर्द भरा संग्रह।

Khamoshi Quotes In Hindi का यह पोस्ट उन सभी दोस्तों के लिए जो आज खामोश हैं और उनकी ख़ामोशी का राज़ रिश्ते, दुनिदारी, प्यार और बेवफाई हैं।

आज हमने Dard Khamoshi Shayari का पोस्ट ख़ास आपके लिए हैं हमने आपकी ख़ामोशी पर ढेरों शायरी को संग्रह किया हैं।

तो आईये दोस्तों पढ़ते हैं Shayari On Khamoshi के इस दर्द भरे उदासी से जुड़े कलेक्शन को और अपने पसंद कि ख़ामोशी शायरी को कॉपी करते हैं।

और Whatsapp, Facebook & Instagram पर Post करते हैं और अपनी ख़ामोशी का कारन अपने दोस्तों को शारी के जरिये बताते हैं।

कभी ख़ामोश बैठोगे, कभी कुछ गुनगुनाओगे, हम उतना याद आयेंगे, जितना तुम मुझे भुलाओगे।

# Khamoshi Shayari

मोहब्बत की हक़ीक़त में, ख़ामोशी आख़री सच है।

तू शोर है मेरा, में तेरी ख़ामोशी।

हम ख़ामोशी से देते हैं ख़ामोशी का जवाब, कौन कहता हैं अब हम बात नहीं करते।

जान ले लेगी अब ये ख़ामोशी, क्यूँ ना झगड़ा ही कर लिया जाये।

मेरे चुप रहने से नाराज ना हुआ करो, गहरा समंदर हमेशा खामोश होता है।

क्यों करते हो मुझसे इतनी ख़ामोश मोहब्बत, लोग समझते हैं इस बदनसीब का कोई नहीं।

अजीब है मेरा अकेलापन ना खुश हूँ, ना उदास हूँ, बस अकेला हूँ और खामोश हूँ।

Read More ⇨ 160+ Udas Shayari “उदासी उदास शायरी

Read More ⇨ 300+ Samandar Shayari “समंदर शायरी फोटो के साथ”

तू बारिश की तरह अपनी खामोशी बरसा, हम भी सुखी मिट्टी की तरह महकते जाएंगे।

दर्द आवाज़ छीन लेता है, ख़ामोशी बेवजह नहीं होती।

अल्फ़ाज़ के कुछ तो कंकर फ़ेंको, यहाँ झील सी गहरी ख़ामोशी है।

2 Line Khamoshi Shayari

तुम्हारे खुश होने के अंदाज से लगता है, कुछ टुटा है बड़ी खामोशी से तेरे अन्दर।

तेरी यह ख़ामोशी मेरी जान ले लेगी।

खामोशी की वजह इश्क है, वरना तुझे तमाशा हम भी बना देते।

जब से ये अक्ल जवान हो गयी, तब से ख़ामोशी ही हमारी जुबान हो गयी।

Two Line Khamoshi Shayari

इन ख़ामोश हवाओं में थोड़ी आहट तो हो, उस बिखरी रूह को हमसे थोड़ी चाहत तो हो।

खामोशी जुर्म हैं इस दौर में बोलना सीखो, वरना मिट जाओगे हालातो के तुफानो में।

Read More ⇨ 360+ Chand Shayari 🌜 चाँद पर शायरी

Read More ⇨ 320+ Raat Shayari “रात शायरी प्रसिद्द शायरों के साथ”

गिला शिकवा ही कर डालो के कुछ वक़्त कट जाए, लबो पे आपके यह खामोशी अच्छी नहीं लगती।

इश्क़ के चर्चे भले ही सारी दुनिया में होते होंगे, पर दिल तो ख़ामोशी से ही टूटते हैं।

दिल की ख़ामोशी पर मत जाओ, राख के नीचे आग दबी होती है।

एक तेरी खामोशी ही जला देती है इस पागल दिल को, बाकी सब बाते अच्छी है तेरी तस्वीर में।

जब वो खामोश होती है तब मुझे दुनिया की सबसे महँगी चीज उनकी आवाज़ लगती है।

मोहब्बत नही थी तो एक बार समझाया तो होता, बेचारा दिल तुम्हारी ख़ामोशी को इश्क समझ बैठा।

खामोशीयाँ यूं ही बेवजह नहीं होती, कुछ दर्द भी आवाज़ छीन लिया करतें हैं।

इश्क की राहों में जिस दिल ने शोर मचा रखा था, बेवफाई की गलियों से आज वो खामोश निकला।

साँसों को चलनी जिगर को पार करती है, ख़ामोशी भी बड़े सलीके से वार करती है।

ये जो खामोश से जज्बात लिखे है ना, पढ़ना कभी ध्यान से ये चीखते कमाल है।

जज्बात कहते हैं, खामोशी से बसर हो जाएँ, दर्द की ज़िद हैं कि दुनिया को खबर हो जाएँ।

खामोशियां तेरी मुझसे बातें करती है, मेरा हर दर्द और हर आह समझती है।

Khamoshi Shayari

खामोशी से बनाते रहिये पहचान अपनी, हवाएँ ख़ुद गुनगुनाएगी नाम आपका।

मेरी खामोशियों पर भी उठ रहे थे सौ सवाल, दो लफ्ज़ क्या बोले मुझे बेगैरत बना दिया।

Read More ⇨ 750+ Pyar Bhari Shayari With Images

Read More ⇨ 300+ love shayari in hindi for girlfriend

खामोश शहर की चीखती रातें, सब चुप है पर, कहने को है हजार बातें।

जरूरी नहीं कि हर बात लफ़्ज़ों की गुलाम हो, ख़ामोशी भी खुद में इक जुबान होती है।

Dard Bhari Khamoshi Shayari In Hindi

खामोशी से गुजरी जा रही है जिन्दगी, ना खुशियों की रौनक ना गमों का कोई शोर।

कभी सावन के शोर ने मदहोश किया था मौसम, आज पतझड़ में हर दरख़्त खामोश खड़ा है।

तड़प रहे है हम तुमसे एक अल्फाज के लिए, तोड़ दो खामोशी हमें जिन्दा रखने के लिए।

अल्फाज बेहद खुबसूरत होते है, पर खामोशी की तो बात ही अलग है।

जब इंसान अंदर से टूट जाता हैं, तो अक्सर बाहर से खामोश हो जाता हैं।

मैंने अपनी एक ऐसी दुनिया बसाई है, जिसमें एक तरफ खामोशी और दूसरी तरफ तन्हाई है।

हर जज़्बात कोरे कागज़ पर उतार दिया उसने, वो खामोश भी रहा और सब कुछ कह गया।

तेरी ख़ामोशी, अगर तेरी मज़बूरी है, तो रहने दे इश्क़ कौन सा जरुरी है।

# Khamoshi Quotes In Hindi

ख़ामोशी बहुत कुछ कहती है, कान लगाकर नहीं, दिल लगाकर सुनो।

इंसान की अच्छाई पर सब खामोश रहते हैं, चर्चा अगर उसकी बुराई पर हो तो गूँगे भी बोल पड़ते हैं।

अपने खिलाफ बाते, खामोशी से सुन लो. यकीन मानो वक्त, बेहतरीन जवाब देगा।

उसने पढ़े तो ही अल्फाजों ने बोलना शुरू किया, वरना एक अरसे से ये पन्नों में खामोश पड़े थे।

Khamoshi Quotes Hindi

लफ्ज़ो को तो दुनिया समझती है, काश कोई ख़ामोशी भी समझता।

आपकी गुमनामी के इस दौर में, चुप सी खामोशियाँ भी बेहद शोर मचाती है।

चुभता तो बहुत कुछ हैं मुझे भी तीर की तरह, लेकिन खामोश रहता हूँ तेरी तस्वीर की तरह।

अब अल्फ़ाज नहीं बचे कहने को एक वो है, जो मेरी ख़ामोशी नहीं समझती।

एक उम्र ग़ुज़ारी हैं हमने तुम्हारी ख़ामोशी पढते हुए, एक उम्र गुज़ार देंगे तुम्हें महसूस करते हुए।

कभी ख़ामोशी बनते हैं, कभी आवाज बनते है, हर तन्हाई के साथी मेरे जज्बात बनते हैं।

लफ़्ज़ों की कमी तो कभी भी नहीं थी जनाब, हमें तलाश उनकी है जो हमारी ख़ामोशी पढ़ लें।

चाह कर भी इश्क़-ए-इज़हार जो हम कर ना सके, हमारी ख़ामोशी पढ़ लो तुम और क़ुबूल कर लो हमें।

भूल गए हैं लफ्ज़ मेरे लबों का पता जैसे, या फिर खामोशियों ने जहन में पहरा लगा रखा है।

Khamoshi Quotes

बड़ी ख़ामोशी से गुज़र जाते हैं, हम एक दूसरे के करीब से फिर भी दिलों का शोर सुनाई दे ही जाता है।

मेरी खामोशी से किसी को कोई फर्क नही पड़ता, और शिकायत में दो लफ़्ज कह दूं तो वो चुभ जाते हैं।

वक्त तुम्हारे ख़िलाफ़ हो तो खामोश हो जाना, कोई छीन नहीं सकता जो तेरे नसीब में है पाना।

जुबाँ न भी बोले तो, मुश्किल नहीं, फिक्र तब होती है जब, खामोशी भी बोलना छोड़ दें।

आसान नहीं उस शख्स को समझना, जो जानता सब कुछ हो पर खामोश रहे हर वक़्त।

उसकी सच्चाई जब से हमारे पास आई, हमारे लबों को तब से ख़ामोशी ही रास आई।

तेरी खामोशियों को पढ़कर खामोश हो जाता हूं, भला कर भी क्या सकता हूं, गम-ए-आगोश हो जाता हूं।

हम खुश थे तो लोगों को शक भी न हुआ, जरा सी ख़ामोशी ने हमारी सारे राज खोल दिए।

# Rishte Khamoshi Shayari

खामोशी बयां कर देती है सब कुछ, जब दिल का रिश्ता जुड़ जाता है किसी से।

कुछ रिश्ते खामोश ही अच्छे लगते हैं।

जब खामोशी कमजोरी बन जाती है, तो खूबसूरत रिश्तों में दरारे आ जाती है।

Rishte Khamoshi Shayari In Hindi

रिश्तों लो समझने वाले तो ख़ामोशी भी समझ लेते हैं, न समझने वाले जज़्बातों का भी मज़ाक़ बना देते हैं।

बोलने से जब अपने रूठ जाए, तब खामोशी को अपनी ताकत बनाएं।

# Khamoshi Status In Hindi

ख़ामोशी से मुसीबत और भी संगीन होती है, तड़प ऐ दिल तड़पने से ज़रा तस्कीन होती है।

मेरे हालात ने कर दिया था मुझे खामोश, हम जरा चुप हुए तो तुमने याद करना ही छोड़ दिया।

मुझे अपने इश्क़ की वफ़ा पर बड़ा नाज था, जब वो बेवफा निकला, मैं भी खामोश हो गया।

शोर तो गुजरे लम्हे किया करते हैं जिंदगी में अक्सर, वो तो आज भी हमारे पास से ख़ामोशी से गुजर जाते हैं।

Khamoshi Status

चलो अब जाने भी दो यार क्या करोगे दास्तान सुनकर, खामोशी तुम समझोगे नहीं और बयां हमसे होगा नहीं।

हक़ीकत में खामोशी कभी भी चुप नहीं रहती है, कभी तुम गौर से सुनना बहुत किस्से सुनाती है।

जब कोई ख्याल दिल से टकराता है, दिल न चाह कर भी खामोश रह जाता है, कोई सब कुछ कह कर प्यार जताता है, कोई कुछ न कहकर भी सब बोल जाता है।

शोर तो दुनिया वालों ने मचाया है हमारे कारनामों का, हमने तो जब भी कुछ किया ख़ामोशी से ही किया है।

खामोश बैठे हैं तो लोग कहते हैं, उदासी अच्छी नहीं और ज़रा सा हंस लें तो लोग मुस्कुराने की वजह पूछ लेते हैं।

Read More ⇨ 1110+ Life Quotes In Hindi लाइफ कोट्स

Read More ⇨ 990+ Reality Life Quotes In Hindi

कुछ कहा भी नहीं और सारी बात हो गयी, उसकी ख़ामोशी ने ही सारी दास्तान कह सुनाई।

जब वो खामोश होती है तब मुझे दुनिया की सबसे महँगी चीज उनकी आवाज़ लगती है।

4 Line Khamoshi Shayari In Hindi

रहना चाहते थे साथ उनके पर इस ज़माने ने रहने ना दिया, कभी वक़्त की खामोशी मे ख़ामोश रहे तो कभी उनकी खामोशी ने कुछ कहने ना दिया।

ये तुफान यूँ ही नहीं आया है, इससे पहले इसकी दस्तक भी आई थी, ये मंजर जो दिख रहा है तेज आंधियों का, इससे पहले यहाँ एक ख़ामोशी भी छाई थी।

हमारी मोहब्बत जरूर अधूरी रह गयी होगी पिछले जन्म मे, वरना इस जन्म की तेरी ख़ामोशी मुझे इतना बेचैन न करती

हमारी ख़ामोशी ही हमारी कमजोरी बन गयी, उन्हें कह न पाए दिल के जज़्बात और इस तरह से उनसे इक दूरी बन गयी।

मेरी खामोशियों में भी फसाना ढूंढ लेती है, बड़ी शातिर है ये दुनिया बहाना ढूंढ लेती है, हकीकत जिद किये बैठी है चकनाचूर करने को, मगर हर आंख फिर सपना सुहाना ढूंढ लेती है।

ये तुफान यूँ ही नहीं आया है, इससे पहले इसकी दस्तक भी आई थी, ये मंजर जो दिख रहा है तेज आंधियों का, इससे पहले यहाँ एक ख़ामोशी भी छाई थी।

हर ख़ामोशी का मतलब इन्कार नही होता, हर नाकामी का मतलब हार नही होता, तो क्या हुआ अगर हम तुम्हें पा न सके सिर्फ पाने का मतलब प्यार नहीं होता।

तुम्हारा होकर भी मेरा न होना, तुम्हारे प्यार में मेरा हर पल खोये रहना, उस पर तेरी ख़ामोशी, बड़ा बेचैन करती है।

जब खामोश आँखो से बात होती है, ऐसे ही मोहब्बत की शुरुआत होती है, तुम्हारे ही ख़यालो में खोए रहते हैं, पता नही कब दिन और कब रात होती है।

# Khamoshi Par Shayari

बातें तेरे-मेरे तमाशे का सबब बनें इससे अच्छा है कि लब खामोश हीं रहें।

मोहब्बतें मे नुमाइश की जरूरत नहीं होती, ये तो वो जज्बा है जिसमे खामोशी भी गुनगुनाती है।

Dard Khamoshi Shayari

राज खोल देते हैं, नाजुक से इशारे अक्सर, कितनी ख़ामोश मोहब्बत की जुबान होती हैं।

ख़ामोशी छुपाती है ऐब और हुनर दोनों, शख्सियत का अंदाज़ा गुफ्तगू से होता है।

Meri Khamoshi Shayari

जब से ग़मों ने मेरी जिंदगी में, अपनी दुनिया बसाई है, दो ही साथी बचे हैं अपने, एक ख़ामोशी और दूसरी तन्हाई है।

ख़ामोशी में चाहे जितना बेगाना-पन हो, लेकिन इक आहट जानी-पहचानी होती है➖ भारत भूषण पन्त।

खामोशियाँ वही रही ता-उम्र दरमियाँ, बस वक़्त के सितम और हसीन होते गए।

चुप रहो तो पूछता है ख़ैर है, लो ख़मोशी भी शिकायत हो गई। “अख़्तर अंसारी अकबराबादी।”

वो अब हर एक बात का मतलब पूछता है मुझसे “फ़राज़” कभी जो मेरी ख़ामोशी की तफ्सील लिखा करता था।

आप ने तस्वीर भेजी मैं ने देखी ग़ौर से, हर अदा अच्छी ख़मोशी की अदा अच्छी नहीं। “जलील मानिकपूरी।”

खामोशी की भी अपनी एक अलग ही अहमियत होती है तितलियाँ अपनी खूबसूरती का बखान नहीं किया करतीं।

हमारी ख़ामोशी ही हमारी कमजोरी बन गयी, उन्हें कह न पाए दिल के जज़्बात और इस तरह से उनसे इक दूरी बन गयी।

अजीब शोर मचाने लगे हैं सन्नाटे ये किस तरह की ख़मोशी हर इक सदा में है➖आसिम वास्ती ।

उसे बेचैन कर जाऊँगा मैं भी, ख़मोशी से गुज़र जाऊँगा मैं भी➖ अमीर क़ज़लबाश।

कौन कहता है खामोशिया खामोश होती है, खामोशिया को खामोश से सुनो कभी कभी ख़ामोशी वो कह देती है, जिनकी आपको लफ्जो में तलाश होती है।

🍂 Khamoshi Shayari In English

Mohabbat Ki Haqeeqat Me,n, Khamoshi Aakhari Sach Hain.

Tu Shor Hain Mera, Mai Teri Khamoshi

Shayari On Khamoshi

Dard Aawaz Chhin Leti Hain, Khamoshi Bevajah Nahi Hoti.

Dil Ki Khamoshi Par Mat Jaao, Raakh Ke Neeche Aag Dabi Hoti Hain.

Jaan Le Legi Ab Ye Khamoshi, Kyu Naa Jhagadaa Hi Kar Liya Jaay?

Teri Yah Khamoshi Meri Jaan Le Legi.

Mere Halaat Ne Kar Diya Tha Mujhe Khamosh, Ham Jara Chup Huye To, Tumane Yaad Karana Hi Chhod Diya.

Mere Chup Rahane Se Naraz Na Huaa Karo, Gaharaa Samandar Hamesha Khamosh Hota Hain.

🍂 Final Word

दोस्तों आशा करता हूँ कि आप सभी को हमारी यह Khamoshi Shayari In Hindi With Images  की पोस्ट पसंद आई होगी और आपने ख़ामोशी शायरी फोटो, इमेज को अपने दोस्तों के साथ अवश्य साझा भी किया होगा।।

।।Khamoshi Shayari In Hindi English।।

Friends, you can also join our Instagram profile. And there also you will get the latest post which you can share on your profile.

Thank you very much, you have given a lot of love to this small blog of ours. If you have any suggestion for this blog or any complaint or want to join our blog then feel free to CONTACT US.

Leave a comment